[Internet Loss In Hindi]

Internet से होने वाली हानि नुकसान कौनसे-कौनसे है [Internet Loss In Hindi] ?

Spread the love

दोस्तों यदि आप एक स्टूडेंट है और आपके पढ़ाई के विषय में के कंप्यूटर के भी विषय जुड़ा है तो आपको कंप्यूटर सम्बंधित परीक्षा पेपर में एक प्रश्न जरूर पूछा गया होगा या फिर भविष्य में पूछा जा सकता है कि Internet से होने वाली हानि नुकसान कौनसे-कौनसे है ?


नमस्कार दोस्तों आज हम आपको बताने जा रहे है कि Internet से होने वाली हानि नुकसान कौनसे-कौनसे है [Internet Loss In Hindi] ?  तो आज हम केवल इसी Internet से होने वाली समस्या के बारे में आपको बतायेगें।

 

 

Virus क्या है Virus कितने प्रकार के होते है ? [Virus in Hindi]
Hacker और Hacking क्या है और Hacking के सॉफ्टवेयर और उसके कानून
इंटरनेट के कार्य क्या हैं [ What are the Work of Internet In Hindi ] ?

 

 

हैकर और हैकिंग – इंटरनेट की सबसे बड़ी समस्या है इंटरनेट पर होने जाने वाली हैकिंग दोस्तों आज के समय इंटरनेट पर हैकर और हैकिंग की समस्या बहुत ज्यादा है और यह दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है हैकर अपने किसी एक स्थान से कुछ हैकिंग सॉफ्टवेयर के माध्यम से दुनियां के किसी भी कंप्यूटर को हैक कर रहे है और लोगों को नुकसान पहुंचा रहे है बहुत से हैकर हैकिंग को अपना पेशा बना लेते जिसके कारण दुनियां में हैकर की तादात बढ़ती जा रही है जिसके चलते इंटरनेट पर यूजर को हानि-नुकसान होने का खतरा पैदा होते जा रहे है,

 

हैकिंग अटैक में इंडिया, रूस, अमेरिका, चीन, जैसे देश भी अपने आप को सुरक्षित नहीं रख पा रहे है यह सभी देश में साइबर अटैक होते रहते है क्योंकि दुनियां के सभी देश एक दूसर को नुकसान पहुंचाने के लिए साइबर अटैक करते रहते है जिसे cyber Warfare कहते है जो दुनियां के लिए एक चिंता का विषय बना हुआ है और यही इंटरनेट यूजर के लिए समस्या पैदा कर सकता है और उनको काफी नुकसान पहुंचा सकता है।

कैसे बचाव करे ?

अपने कंप्यूटर या लैपटॉप में एक अच्छा प्रीमियम एंटीवायरस इनस्टॉल करे।

 

Internet से होने वाली हानि नुकसान कौनसे-कौनसे है [Internet Loss In Hindi]

 

स्पैम लिंक – इंटरनेट पर स्पैम लिंक इंटरनेट यूजर के लिए काफी खतरनाक है स्पैम लिंक के द्वारा इंटरनेट पर यूजर को काफी हानि पहुंचाई जाती है स्पैम लिंक में इंटरनेट पर यूजर को ईमेल, चैट बॉक्स, जैसी चीजों के द्वारा कुछ ऐसे-ऐसे लिंक भेजे जाते है जो इंटरनेट के यूजर के लिए काफी खतरनाक होते है।

कैसे बचाव करे ?

इंटरनेट पर किसी भी प्रकार के अनजान लिंक पर क्लिक नहीं ना करे। 

 

 

फिशिंग – इंटरनेट पर फिशिंग इंटरनेट यूजर के लिए बहुत बड़ी समस्या बनी हुई है फिशिंग के अंदर एक हैकर इंटरनेट यूजर के डिटेल्स चुराता है और नुकसान पहुंचाता है जैसे आपको इंटरनेट पर मेल आया है और आपको किसी फायदे वाले ऑफर के बारे में बता रहे है और उस ऑफर को देने के लिए आपकी पर्सनल डिटेल्स मांगते है जैसे-बैंक डिटेल्स, मोबाइल नंबर, घर का एड्रेस और इन सभी डिटेल्स का इंटरनेट पर गलत उपयोग करके आपको बहुत बड़ी हानि पहुंचाते है जो इंटरनेट यूजर के की सुरक्षा की दृष्टि से काफी चिंता का विषय बना  है.

कैसे बचाव करे ?

इंटरनेट पर अपने इंटरनेट ब्राउज़र में अपनी महत्वपूर्ण डिटेल्स  Save ना करे और ना ही किसी के साथ शेयर करे 

 

 

मैलवेयर – इंटरनेट यूजर के लिए मैलवेयर भी बहुत बड़ी समस्य बनी रहती है जब यूजर अपने कंप्यूटर लैपटॉप में इंटरनेट पर किसी सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करके उसे कंप्यूटर लैपटॉप में इनस्टॉल करते है तो कुछ हैकर सॉफ्टवेयर  अंदर वायरस, ट्रोजन , कीय locker जैसे चीजे शामिल कर देते है जब आप इस सॉफ्टवेयर को कंप्यूटर लैपटॉप में डाउनलोड करके कंप्यूटर में लैपटॉप में इनस्टॉल करेगें तो इस सॉफ्टवेयर के साथ-साथ आपके कंप्यूटर में वायरस, ट्रोजन , कीय Locker जैसी खतरनाक चीजे इनस्टॉल हो जायेगी जो आपको काफी नुकसान पहुँचाती है कंप्यूटर लैपटॉप के अंदर वायरस, ट्रोजन , कीय लाकर आपके कंप्यूटर लैपटॉप पर नजर रखते है , आपके पासवर्ड को चुराते है , आपकी डिटेल्स हैक  करते है और इंटरनेट पर यूजर को  बहुत बड़ा नुकसान पहुंचाते है.

कैसे बचाव करे ?

किसी पॉपुलर वेबसाइट से ही अपने कंप्यूटर लैपटॉप में सॉफ्टवेयर इनस्टॉल करे पॉपुलर सॉफ्टवेयर डाउनलोड वेबसाइट – filehippo.com

 

 

सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फ्रॉड – इंटरनेट  सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट पर काफी फ्रॉड बढ़ गया है आज के समय कुछ ऐसे-ऐसे लोग सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट पर लोगों को  फ्रेंड request भेजकर लोगों को फसा रहे है इंटरनेट पर कुछ हैकर सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट पर लोगों से कुछ अच्छी-अच्छी बात करके आकर्षित ऑफर बताकर उनको फायदे कराने वाली बातें करते है जैसे की इस चीज को खरीदने पर 80 प्रतिशत डिस्कॉउंट , इसे खरीदने पर 70 प्रतिशत कैशबैक और लोगों को फसा लेते है जो इंटरनेट पर सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट उपयोग करने वालों की बहुत बड़ी समस्या बनी हुई है.

कैसे बचाव करे ?

सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट पर अनजान लोगों को फ्रेंड्स नहीं बनाये अगर बनाये तो फिर अपनी पर्सनल डिटेल्स शेयर ना करे उनके साथ.

 

 

फेक वेबसाइट ब्लॉग – इंटरनेट पर आज के समय कम से कम 20 प्रतिशत फेक वेबसाइट ब्लॉग है जो केवल इंटरनेट यूजर को नुकसान पहुंचाने के लिए बनी हुई है इंटरनेट पर कुछ शॉपिंग वेबसाइट बनी है जो कम दाम में अच्छी किस्म की वस्तु बेचने का दावा करती है और जब इंटरनेट यूजर इन वेबसाइट से वास्तु खरीदने के लिए जाते है और अपनी पेमेंट डिटेल्स वेबसाइट के अंदर डालते है तो यह वेबसाइट यूजर से पेमेंट डिटेल्स डलवाने के बाद उस यूजर को किसी और वेबसाइट पर Redirect कर देती है और उनकी सभी पेमेंट डिटेल्स वेबसाइट के मालिक के पास पहुंच जाती है जो यूजर के डिटेल्स के साथ कुछ भी गलत करके उसको हानि पहुंचा सकता है इंटरनेट पर फेक वेबसाइट भी इंटरनेट पर लोगों के लिए एक समस्या बनी हुई है.

कैसे बचाव करे ?

किसी भी वेबसाइट ब्लॉग पर विजिट करते समय पहले उस वेबसाइट को चेक करले जैसे कितनी पॉपुलर है वेबसाइट, वेबसाइट पर लिंक कौनसी-कौनसी वेबसाइट पर है , कौनसे-कौनसे प्रोग्राम पार्टनर है.

 

 

आशा करते है कि Internet से होने वाली हानि नुकसान कौनसे-कौनसे है [Internet Loss In Hindi] ? और इससे कैसे बचाव करे और इससे संबधित जानकारी आपको अच्छी लगी होगी और यह जानकारी आपके लिए काफी उपयोगी साबित हुई होगी तो आप इसी तरह की जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर विजिट करते रहिये।